Tuesday, 26 November 2019

BPSC ,UPPCS MAINS CURRENT AFFAIRS PDF 2019

By:   Last Updated:

BPSC ,UPPCS MAINS CURRENT AFFAIRS PDF 2019



आप लोगों के साथ आज दृष्टि द विजन का बीपीएससी मैंस यूपीएससी मैंस या जेपीएससी मैंस यूपीपीसीएस मैंस के लिए करंट अफेयर्स का क्वेश्चन शेयर कर रहे हैं जिसका पीडीएफ आप लोग आसानी से डाउनलोड कर सकते हैं अगर आप लोगों को किसी भी तरह का नोट चाहिए
दृष्टि आईएएस का तो आप हमारे व्हाट्सएप कर सकते हैं मेरा नंबर आपको फेसबुक पेज पर मिल जाएगा उससे पहले आप लोगों को बता दो किसका पीडीएफ आप लोग आसानी से डाउनलोड कर सकते हैं इसमें हम 1.pdf आप लोगों को शेयर कर रहे हैं जिसमें जीडीपी की गणना और आधार वर्ष बताया गया है उसके बारे में

DRISHTI  NOTES PDF


इस एडिटोरियल में द हिंदू द इंडियन एक्सप्रेस बिजनेस लाइन आदि में प्रकाशित लेखों का विश्लेषण किया गया है इस लेख में जीडीपी की गणना और आधार वर्ष पर चर्चा की गई है आवश्यकतानुसार यथा स्थान दृष्टि के इनपुट बीच में शामिल है

संदर्भ 


केंद्रीय सांख्यिकी कार्यालय देश के सकल घरेलू उत्पाद की गणना के लिए आधार वर्ष 2011 12 बदल कर दो हजार सत्रह अट्ठारह करने पर विचार कर रहा है मुख्य सांख्यिकी वेद के अनुसार इस कार्य को उपभोक्ता व्यय सर्वेक्षण और उद्योग के वार्षिक सर्वेक्षण के बाद जल्द से जल्द किया जाएगा की जीडीपी का उपयोग मुख्यतः किसी देश के विकास को मापने के लिए एक माने के रूप में किया जाता है देश की वृद्धि दर की गणना करते समय अर्थव्यवस्था वास्तविक स्थिति जानने के लिए आधार वर्ष का प्रयोग किया जाता है वर्तमान में भारत 2011 12 को आधार वर्ष के रूप में प्रयोग कर रहा है

क्या होता है आधार वर्ष


आधार वर्ष 1 प्रकार के बेंच मार्क होता है जिसके आधार पर राष्ट्रीय आखिरी जैसे सकल घरेलू उत्पाद सकल घरेलू बचत और शक्ल पूंजी निर्माण आदि की गणना की जाती है सकल घरेलू उत्पाद जीडीपी का आशय किसी देश में उत्पादित सभी वस्तुओं और सेवाओं के कुल मूल्य से होता है



 जीडीपी मुख्यतः दो प्रकार के होती है नॉमिनल जीडीपी और वास्तविक जीडीपी नॉमिनल जीडीपी वस्तुओं और सेवाओं के मूल्यों को मापता है वास्तविक डीपी डीपी आता है जाती है परिवर्तन संभव होता है एक प्रतिनिधि होता है और उसके सूचना के समय ध्यान रखा जाता है उसमें कोई बड़ी आर्थिक व प्राकृतिक घटना घटित हुए हो आधार वर्ष का चुनाव करते समय ध्यान में रखा जाता है ताकि अर्थव्यवस्था की स्थिति का आकलन किया जाता है गौरव को ध्यान में रखते हुए देश में प्रत्येक 7 से 10 वर्षों के आधार पर बदला जाता है परिवर्तन से देश के जीडीपी का आकार भी होता है




DRISHTI IAS NOTES 


इसी प्रकार से इसमें नोट्स दिया गया है जिसको आप लोग डाउनलोड करके आप लोग पूरे डिटेल पर है आधार वर्ष का विवाद क्या है आधार वर्ष में परिवर्तन की आवश्यकता क्यों हुआ सभी को आप लोग अच्छे से परे उसका निष्कर्ष क्या निकला आधार वर्ष का प्रयोग का इतिहास जो आप लोग डाउनलोड करके पड़े नीचे दिए गए लिंक के माध्यम से

DRISHTI IAS NOTES 




No comments:
Write comment