GHATNA CHAKRA 2019 PDF

By:   Last Updated: in: ,


जैसा कि सभी लोग जानते हैं कि पढ़ाई के साथ-साथ हौसला बढ़ाने के लिए भी कुछ ना कुछ जानना होता है जिससे आपको हौसला बना रहे उस चीज को तैयारी करने के लिए तो आज हम उस बुक का पीडीएफ लेकर के आए हैं जिसको आप जितने भी 2019 में सफल अभ्यर्थी हुए हैं यूपीएससी के लिए यूपीपीसीएस के लिए उसी का पूरा कटना लेकर के आए हैं कैसे पढ़ना है कैसे वह लोग बैठे हैं इस मुकाम पर पहुंचे हैं और कौन सी पद अभी उन्हें मिली है और कौन से पद पर कार्य कर रहे हैं तो इस पीडीऍफ़ के माध्यम से हम लोग यही जानेंगे और जानकर अपने आप को मोटिवेट रखेंगे तो आज हम यूपीपीसीएस में जो अच्छे सफलता हासिल किए हैं उनका कहानी लेकर के आए हैं और आप लोग इनके बारे में जरूर चाहेंगे और पढ़ सकते हैं





एक लड़का की कहानी





एक युवक को एक पहाड़ी पर जाकर उसे देखने की जिज्ञासा थी यही कोई 10 मील की यात्रा रही होगी उसके मन में विचार आया कि यदि सुबह वाह यात्रा शुरू करेगा तो अब पहुंचते-पहुंचते धूप हो जाएगी और कठिनाई होगा तो वह 3:00 बजे तक तक उठकर चल पड़ा जब वह अपनी लालटेन लेकर गांव के बाहर पहुंचा तो अमावस की





रात धूप अंधेरा वह लालटेन देखकर वहीं बैठ गया लगा सोचने की छोटी सी लालटेन फीट 2 फीट तक ही रोशनी जाती है और 10 मील लंबा रास्ता है हे भगवान यह नहीं हो सकता उस से गुणा भाग किया और 10 मील का रास्ता 2 फीट रोशनी समझ में आ गया कि वह तो बहुत ही कठिन है





मेरा काम नहीं हो पाएगा वह वहीं बैठा गया कि सूरज की रोशनी को संपूर्ण रास्ता प्रकाशमान हो उठे तभी वह चलेगा अभी वह सोच रहा है कि एक बूढ़ा आदमी भी उसी पहाड़ी की ओर जाने के लिए पीछे आया उसने पूछा बेटा तुम लालटेन लेकर बैठे क्यों हो युवक ने कहा बाबा मैं इसलिए बैठा हूं कि सूरज निकल आए तो जाओ क्योंकि रास्ता 10 लंबा है और मेरे पास छोटी सी लालटेन है जिससे बच्चों की रोशनी जाती है कैसे होगा या कैसे बात बनेगी





उस बुड्ढे ने उत्तर दिया बड़ा पागल है तू दो फिर से रोशनी बहुत ही क्योंकि आदमी एक कदम से ज्यादा कभी नहीं चलता एक कदम चल तब रोशनी तक रोशनी ही दो कदम आगे बढ़ जाएगी तुझे तो फिर रोशनी हर वक्त मिलती रहेगी 10 मील क्या 1000000 मिल भी तू इतनी छोटी लालटेन से पार कर सकता है तू अजीब हिसाब लगा रहा है कि यह रोशनी दुखी है रास्ता तो 10 मील है कितनी रोशनी चाहिए इतनी बड़ी लालटेन कभी नहीं बन सकती फिर तू कभी नहीं जा सकेगा





निवेदन यह है कि छोटी सी भी रोशनी दिखाई पड़ता तो चलना शुरू कर दे आपके चलने से रोशनी ही आगे बढ़ जाए की एक कदम चलने तक के लिए ही यदि रोशनी है तो बहुत है क्योंकि कोई भी एक बार में एक कदम ही नहीं चल सकता चयनित परीक्षाओं को बंद बातें आपके लिए छोटी सी रोशनी का काम करेगी इसके सहारे आगे बढ़ चले वरना हिसाब लगाने में लोग बहुत कुशल होते हैं और बैठकर हिसाब लगाते रह जाते हैं





GHATNA CHAKRA 2019 PDF DAWNLOAD





READ MORE-










No comments:
Write comment