BPSC MAINS की तैयारी कैसे करें , कैसे लिखे


उत्तर लेखन 





  • मुख्य परीक्षा में सफलता सिर्फ अध्ययन एवं ज्ञात नहीं बल्कि  प्रामाणिक अध्ययन एवं उसका परीक्षायोगी प्रदर्शन है,
  • मुख्य परीक्षा परीक्षार्णी के प्रशासकीय गुणों एवं समक्ष की भी जाँच करता है 




परीक्षा भवन में प्रश्न पत्र मिलने पर 





1 प्रश्न का चुनाव करना 





2 लेखन क्रम निर्धारण करना (शुरू में अच्छा )





3 समय निर्धारण 





(शुरुआत के प्रश्नों पर कुछ ज्यादा बिच में थोड़ा कम और बाद में ज्यादा )





4 लाइन निर्धारण (1 मिनट =2 लाइन )





वर्तमान प्रश्नो की प्रवृति में यथासंभव 





  • परीक्षा हाल में पूछे गए प्रश्नों की माँग एवं अपने उपलब्ध ज्ञान के आधार पर प्रश्न के उत्तर का लेखन न की पहले से रटे -रटाये को लिखता है, 
  • प्रश्नो के लिए COOL ,BREAK  AND HIT TECHNIQUE का प्रयोग करना चाहिए 
  • यदि एक उत्तर के लिए 20 -22 मिनट का समय हो तो लगभग 18 -20 मिनट लिखना ,लिखने पहले 1 -2 मिनट पप्रारूप सोचना तथा लिखने के साथ एवं बाद में 1 -2 मिनट सजाना ,




उत्तर का प्रारूप ;





  •   तीन भाग -पहला - आरम्भ /भूमिका 
  • दूसरा ---------विस्तार 
  • तीसरा --------समीक्षा एवं निष्कर्ष 




भूमिका ;





1 सीधे प्रश्न से शुरुआत 





2 प्रश्न की मांग का सबसे महत्वपूर्ण POINTS तथा अन्य POINT का संकेत 





3 यदि प्रश्न किसी विवाद पर आधारित हो तो दोनों पक्ष का संकेत ,लेकिन अपना निष्कर्ष नहीं देना है, 





3 अगर प्रश्न सम्बंधित को श्रोत या रिपोर्ट का आधार हो उसका उल्लेख 





विस्तार 





  •  प्रश्न की मांग एवं  समय  अनुसार अनुसार विभिन्न पक्षों को शामिल करने   प्रयास जैसे-समाजिक ,आर्थिक ,राजनितिक ,सांस्कृतिक पहलु ,राष्ट्रीय व् अंतराष्ट्रीय पहलु ,
  • अपने तथ्य को सरकारी  निति ,रिपोर्ट ,विद्वानों के विचार आदि से पुष्टि करने का प्रयास 
  • प्रश्न की प्रकृति व् तथ्यों  अनुसार कही बिंदु या कहीं  पैराग्राफ में लेखन करना 
  • उत्तर के विस्तार में क्रमबद्धता ,तथ्य एवं विश्लेषण में संतुलन बना रहे ,




अंत 





  • समीक्षा (SECOND LAST PARAGRAPH )
  • निष्कर्ष (LAST PARAGRAPH )




समीक्षा ;





तुलना (सकारात्मक एवं नकारात्मक )





पक्ष (आलोचना में नकारात्मक ज्यादा )





निष्कर्ष 





  • ऊपर लिखी बातों का सारांश 
  • संतुलित टिपण्णी 
  • टॉपिक का दूरगामी प्रभाव 
  • टॉपिक का वर्तमान प्रासंगिक 
  • टॉपिक को मानव विकास या कल्याण सन्दर्भ में या देश के विकास के सन्दर्भ में सकारात्मक रूप से समाप्त करना 




उत्तर के सजावट ;





यथासम्भव स्पष्ट अक्षर लिखने का प्रयास करें ,लम्बे प्रश्न में 2 -3 लाइन भूमिका के तुरंत बाद विस्तार के तथ्यों का फॉलो चार्ट -----------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------





जैसे - कारण 






No comments:
Write comment